Day: 22 June 2017

बदलाव

नमस्कार , और प्रभु कैसे हैं? उम्मीद है की सब कुशल मंगल होगा। अगर नहीं है तो चींटियों को आटा खिलाइये, क्या पता कृपा बरस जाये। कृपा कहा रुकी हुई है ये तो हम नहीं बता सकते हैं। परन्तु आपको इतना जरूर बता सकते है की निरंतर प्रयास करते रहिये, क्यों की और कुछ हम …